Ad
ख़बर शेयर करें -

शादी के नाम पर नाबालिग को बेचने का मामला सामने आया है। मामले के बाद आरोपी मां सहित पांच महिलाओं को पुलिस ने पूछताछ करने के बाद जेल भेज दिया है। पूछताछ में पीड़िता ने कई खुलासे किए हैं। पुलिस के मुताबिक, नाबालिग ने बताया कि इससे पहले भी उसे तीन बार अलग-अलग हाथों बेचकर शादी करवाई गई थी। पीड़िता की आरोपी मां ने मनगढ़ंत कहानी गढ़कर अपनी ही बहन पर आरोप लगाकर मुकदमा दर्ज करा दिया था।

Ad

एएसपी रुद्रपुर ममता बोहरा के अनुसार नाबालिग ने बताया कि उसकी मां के साथ बने महिलाओं के इस गैंग ने इससे पहले उसे रुद्रपुर और रामपुर के रहने वाले युवकों को शादी के नाम पर बेच दिया था। बिजनौर में उसकी तीसरी शादी करायी गई थी।

यह भी पढ़ें 👉  विदाई के बाद ससुराल की चौखट पर पहुंची दुल्हन, उसके बाद कुछ ऐसा हुआ कि दुल्हन को जाना पड़ा थाने

बोहरा ने बताया कि नाबालिग के बने आधार कार्ड में पीड़िता की उम्र 18 साल लिखी हुई है, जबकि मामले के खुलासे के बाद नाबालिग की उम्र चार साल कम पायी गई है। जांच में यह भी बात सामने आई है कि शादी का झांसा देकर बेचने के अमानवीय धंधे से पहले मां अपनी नाबालिग बेटी को रुपये के एवज में दूसरे लोगों के पास भेजती थी।

यह है पूरा मामला

बता दें बीती 20 फरवरी को एक महिला ने अपनी सगी बहन सहित कुछ महिलाओं पर नाबालिग बेटी को बहला-फुसलाकर घर से ले जाने का आरोप लगाया था। महिला ने पुलिस को बताया कि आरोपियों ने उसकी नाबालिग बेटी को बेच दिया है और किसी के साथ उसकी शादी भी करवा दी है। इधर पुलिस ने पड़ताल शुरू की तो मामला परत-दर-परत खुलता गया। निशानदेही पर पुलिस ने बिजनौर के एक घर पर दबिश देकर नाबालिग को छुड़ा लिया और नाबालिग की मां और मौसी, बिचौलिए की भूमिका निभा रही रुद्रपुर निवासी के अलावा रायपुर की रहने वाली पड़ोसी महिला व उसकी बेटी को भी गिरफ्तार कर लिया। जिसके बाद पूरे मामले का खुलासा हुआ।

Ad
Ad
4 1 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments