ख़बर शेयर करें -

नैनीताल। बीडी पांडे ‌महिला व पुरूष अस्पताल जल्द ही एक हो जाएंगे। बेहतर सवास्थ्य व्यवस्थायें व तीमारदारों को बेहतर सुविधाएं देने को लेकर दोनो अस्पतालों को मर्ज करने की कवायद शुरू हो गई है। अधिकारियों का दावा है कि दोनों अस्पतालों को मर्ज करने के बाद मरीजों को और अधिक बेहतर स्वास्थ सुविधाएं मिल सकेंगी। बता दें कि पिछले कई दशकों से बीडी पांडे अस्पताल परिसर में महिला और पुरूष अस्पताल अलग अलग संचालित हो रहे हैं। कुछ साल पहले भी इन दोनों अस्पतालों को मर्ज करने की योजना बनी थी लेकिन तब उसे अमलीजामा नहीं पहनाया जा सका था। इस पुरानी योजना पर एक बार फिर से अमल शुरू हो गया है। दोनों अस्पतालों के मर्ज होने के यहां पीएमएस का एक ही पद रहेगा। महिला अस्पताल के सीएमएस का पद खत्म हो जाएगा। बीडी पांडे अस्पताल के पीएमएस डॉ. केएस धामी ने बताया कि दोनों असपतालों के मर्ज होने के बाद जिम्मेदारियां जरूर बढेंगी लेकिन अस्पताल की स्वास्थ्य व्यवस्थाएं और अधिक बेहतर होंगी जिसका लाभ मरीजों और तीमारदारों को मिलेगा।

यह भी पढ़ें 👉  सरकारी भूमि पर बन रहे वृद्धा आश्रम के निर्माण कार्य को रोके जाने पर हाईकोर्ट सख्त