ख़बर शेयर करें -

नैनीताल : – उत्तराखण्ड हाईकोर्ट में मंगलौर से 2022 में हुए विधानसभा के चुनाव में विजयी बसपा प्रत्याशी सर्वत अंसारी के चुनाव को चुनौती देती याचिका पर सुनवाई हुई। कोर्ट ने मामले सुनवाई करते हुए मंगलौर विधायक सहित सभी 10 प्रत्याशियों को नोटिस जारी कर चार सप्ताह के भीतर अपना पक्ष रखने को कहा है।
मामले की सुनवाई के लिए कोर्ट ने चार सप्ताह बाद की तिथि नियत की है।
आपकों बता दे पूर्व मंगलौर विधायक काजी मोहम्मद निजामुद्दीन ने उच्च न्यायालय में याचिका दायर कर कहा है कि वर्तमान विधायक सर्वत अंसारी द्वारा विधानसभा 2022 के चुनाव में उनके द्वारा जो शपथ पत्र पेश किया गया उसमें उन्होंने कई तथ्य छुपाने के साथ ही अपनी सम्पत्तियों का सही ब्यौरा पेश नही किया गया। याचिकाकर्ता का यह भी कहना है कि सर्वत अंसारी द्वारा शोसल मीडिया पर झूठ फैला कर लोगो को गुमराह किया है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखण्ड की लोक गाथा पर आधारित " हरूहीत " नाटक, जलागम समिति संस्थान सजगोड़ी अल्मोड़ा की प्रस्तुति