ख़बर शेयर करें -

नैनीताल ::- सोसायटी फॉर माउंटेन डेवलपमेंट एंड कंजर्वेशन एसएमडीसी द्वारा वन पंचायत लेटी बूंगा मुक्तेश्वर में वन विभाग भूमि संरक्षण विभाग, शोध निदेशालय कुमाऊं विश्वविद्यालय तथा लेटी बूंगा के महिला दलों के सहयोग से द्वारा 200 पौधे लगाए गए । पौधारोपण हरेला महोत्सव के अंतर्गत किया गया । इस अवसर पर एसएमडीसी की महासचिव डॉक्टर श्रुति साह ने कहा कि जंगल मानव जीवन का आधार है तथा हर व्यक्ति को हरेले पर पौधारोपण करना चाहिए। निदेशक शोध प्रो.ललित तिवारी ने कहा के वन पूरी प्रकृति को संतुलित करते है सासो को बनाए रखने के लिए पौधारोपण जरूरी है । प्रकृति संतुलन तथा सतत विकास के लिए पौधा रोपण आवश्यक है । वन क्षेत्राधिकारी नवीन जोशी ने कहा की जैव विविधता संरक्षण का स्थान है। इस दौरान पौधारोपण में काफल ,बांज ,उतिश ,देवदार , बमौर,कॉल ,पदम ,नींबू आए, के पौधे रोपे। क्षेत्र के नागरिकों ने पूर्ण सहयोग किया ।इस पौधारोपण मेंपौधे प्रभागीय बन अधिकारी शिव राज चंद्र सिंह द्वारा उपलब्ध कराए गए ।पौधारोपण में प्रो.ललित तिवारी ,डॉक्टर श्रुति साह ,नवीन चंद्र जोशी , गोविंद आर्य , डॉक्टर बीना तिवारी फुलारा ,डॉक्टर भावना तिवारी कर्नाटक , डॉक्टर कृष्ण डॉक्टर नवीन पांडे ,डॉक्टर नंदन मेहरा, डॉक्टर ज्योत्सना , सरपंच गीता ,सरपंच गणेश सिंह ,भगवती ,दीपा ,कमला, दीप्ति ,हेमा ,भरत सहित 50 लोगो ने प्रतिभाग कर प्रकृति के प्रति अपना योगदान किया ।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग :: उत्तराखंड शासन से बड़ी खबर,शासन ने 50 आईएएस और पीसीएस अधिकारियों के किए तबादले