ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड बार काउंसिल के पूर्व अध्यक्ष प्रभात चौधरी ने हाईकोर्ट शिफ्ट करने की मांग को लेकर हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल को ज्ञापन सौंपा है। काउंसिल पहले ही हाईकोर्ट को एक सुविधाजनक स्थान पर स्थानांतरित करने का प्रस्ताव पास कर चुका है।

ज्ञापन में उन्होंने कहा है कि हाईकोर्ट ने कोर्ट को नैनीताल से स्थानांतरित करने के संबंध में सभी की राय मांगी थी। इस पर 31 अक्तूबर 2021 को बार काउंसिल ऑफ उत्तराखंड ने हाईकोर्ट को एक सुविधाजनक स्थान पर स्थानांतरित करने के लिए प्रस्ताव पास किया। जहां पर्याप्त स्वास्थ्य सेवाएं, सुविधाजनक मौसम, भौगोलिक स्थिति और आवश्यक नागरिक सुविधाओं के साथ रेल व हवाई हवाई सेवा भी हो।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल :: गांधी नगर पब्लिक स्कूल मुरादाबाद का 9वीं इंटर स्कूल चैस चैंपियनशिप-2022 पर कब्जा

चौधरी ने कहा है कि नैनीताल एक पर्यटन स्थल है। यहां वकीलों के साथ ही उनके मुव्किलों के लिए पहुंचना और ठहरना बहुत ज्यादा महंगा पड़ता है। पर्यटन स्थल होने से व्यापारियों को सीजन में परेशानी का सामना करना पड़ता है। नैनीताल तीन ओर पहाड़ों से घिरा है और भू-स्खलन व भूकंप की दृष्टि से संवेदनशील है। उन्होंने बार काउंसिल के प्रस्ताव पर राज्य व जन हित को देखते हुए जल्द हाईकोर्ट के स्थानांतरण पर विचार करने की मांग की है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड चारधाम यात्रा वर्ष 2022श्री केदारनाथ धाम शीतकाल के लिए कपाट बंद हुए