ख़बर शेयर करें -

देहरादून: उत्तराखंड का एक और लाल तीन अप्रैल को चीन सीमा पर देश की रक्षा करते हुए शहीद हो गया. देहरादून के रहने वाले टीकम सिंह नेगी पूर्वी लद्दाख के नॉर्दन सब सेक्टर में तैनात थे. बताया जा रहा है कि एक स्पेशल मिशन के दौरान वो शहीद हो गए. उनके प्रार्थिव शरीर को कल देहरादून लाया जाएगा।

जानकारी के मुताबिक टीकम सिंह नेगी का परिवार देहरादून जिले के रजावाला सहसपुर में रहता है. शहीद टीकम सिंह नेगी आईटीबीपी में असिस्टेंट कमांडेंट के पद पर थे. इन दिनों उनकी पोस्टिग पूर्वी लद्दाख के नॉर्दन सब सेक्टर में थी. इस समय वो भारत-चीन सीमा चलाए जा रहे एक विशेष मिशन पर तैनात थे, लेकिन तीन अप्रैल का उनका निधन हो गया. आईटीबीपी के अधिकारियों ने परिजनों को फोन पर टीकम सिंह नेगी के शहीद होने की जानकारी दी।

यह भी पढ़ें 👉  यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामला:अब तक 39 लोगों की गिरफ़्तारी

इस संबंध में विकासनगर एसडीएम विनोद कुमार ने बताया कि इस घटना के बारे में उनके पिता आरएस नेगी को जानकारी दे दी गई है. शहीद टीकम सिंह नेगी के पिता आरएस नेगी भी सेना से सेवानिवृत्त हैं. शहीद टीकम सिंह नेगी वर्तमान समय में देहरादून जिले की सहसपुर तहसील क्षेत्र के राजावाला में रहते हैं. बेटे की शहादत की खबर मिलने ही पूरे परिवार में मातम छाया हुआ है. सभी की आंखें नम हैं, हर कोई अपने लाल को याद कर रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल :: राजाजी नेशनल के रिजर्व फारेस्ट में शिद्धबलि स्टोन क्रेशर मामले में हाईकोर्ट ने फैसला किया सुरक्षित

बताया जा रहा है कि शहीद टीकम सिंह नेगी का पार्थिव शरीर मंगलवार चार अप्रैल को दोपहर 12 बजे उनके आवास पर लाया जाएगा. अंतिम दर्शन के बाद कल ही शहीद टीकम सिंह नेगी का पूरे सैन्य सम्मान के साथ के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा।