ख़बर शेयर करें -

भत्रोंखान /रानीखेत :::- राजकीय महाविद्यालय भत्रोंजखान में सोमवार से 12 दिवसीय उद्यमिता विकास प्रशिक्षण कार्यशाला का शुभारंभ प्राचार्य प्रो. सीमा श्रीवास्तव व नोडल अधिकारी डॉ.केतकी तारा कुमैय्यां के नेतृत्व में हुआ। इस दौरान कार्यक्रम में अध्यक्षता जगदीश चंद्र पांडेय, प्रधानाचार्य राजकीय पॉलीटेक्निक चौनलिया ने की तथा आभासी पटल पर अध्यक्षता डॉ.सुमित कुमार, सचिव देवभूमि उद्यमिता विकास योजना देहरादून द्वारा की गई।
दो सत्रों में विभाजित इस कार्यक्रम के प्रथम सत्र में मुख्य अतिथि रहे जगदीश चंद्र पांडेय एवं चौनलिय से आए समस्त प्राध्यापकों को डॉ. रूपा द्वारा भेंट से सम्मानित करते हुए उनकी सक्रियता एवं उद्यमशीलता के लिए आभार व्यक्त किया गया। अपने अनुभवी व्यावहारिक ज्ञान को सांझा करते हुए उन्होंने क्षेत्रीय विकास को बढ़ावा देने वाले उद्यमों पर जोर दिया और इस क्षेत्र में सप्लाई चेन मैनेजमेंट को दुरुस्त करनेवाले उद्यमों पर जोर दिया। आए हुए प्रत्येक प्रतिभागी को उन्होंने अपने उद्यम को नवाचार के साथ जोड़ने के लिए प्रेरित किया ।
तत्पश्चात भिकियसेन ब्लॉक से Reap संस्था के हेमंत करगेती ने अपनी संस्था के कार्यक्रम के अंतर्गत विभिन्न योजनाएं एवम विभिन्न वित्तीय सहायता के बारे में बताया।
तत्पश्चात प्रतिभागियों से उनके उद्यम संबंधी विचार पर संवाद एवम परिचर्चा की गई जिसमे निरंतर मुख्य अतिथि द्वारा उनका मार्गदर्शन किया गया तथा बिजनेस आइडिया को कैसे सफल बनाया जा सकता है उसके गुड मंत्र भी दिए गए।
इस दौरान में आभासी पटल गूगल मीट पर डॉ. सुमित द्वारा प्रतिभागियों का मार्गदर्शन किया गया तथा उन्हें आगामी 12 दिनों के कार्यक्रम में उत्साह के साथ भाग लेने के लिए प्रोत्साहित किया गया। इसी बीच कार्यक्रम के मध्य योगेश भट्ट, रूरल इनक्यूबेशन मैनेजर, अल्मोड़ा का सानिध्य प्राप्त हुआ जहा उन्होंने स्थानीय वस्तुओं से तथा स्थानीय कला को कैसे बिजनेस आइडिया में परवर्तित कर एक सफल उद्यमी बना जा सकता है। पटल पर एनजीओ की अध्यक्ष सोनिया , सत्यासात्विक जुड़ी जिन्होंने गाय के गोबर से अगरबत्ती का व्यवसाय शुरू कर न केवल रोजगार सृजन में भूमिका निभाई बल्कि महिला सशक्तिकरण को भी बढ़ावा देने का कार्य किया।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल में शातिर चोरों के आतंक से अवाम की उड़ रही नींद….


इसी क्रम में निधि फाउंडेशन,अल्मोड़ा के दिनेश नैलवाल भी जुड़े जिन्होंने आगामी दिवसों में एक सुनियोजित तरीके से उद्यम की नीव कैसे रखी जाती है से लेकर कैसे सफल उद्यमी बना जा सकता है इस पर जोर दिया।
पॉलीटेक्निक चौनालिया से आए विद्यार्थियों में प्रशांत कुमार ने 2डी/ 3D एनीमेशन पर, मुकेश चंद्र आर्य ने मेडिकल कोरियर सर्विस , किरण गोस्वामी ने बांबू हैंडीक्राफ्ट , लकी असवाल ने लेमन फार्मिंग, दीपक सिंह बिष्ट ने ड्राइविंग स्कूल, मनोज कुमार ने ऑर्गेनिक खेती, कियांशी सैनी ने सौर ऊर्जा प्लांट , प्रमोद कुमार ने पॉलीनाउस ,राजकीय महाविद्यालय भत्रोजखान से दिव्या ने फैशन डेजनिंग, अंजली मेहरा ने ऐपण कला, पूजा पाली ने एलोवेरा ब्यूटी प्रोडक्ट, दीपक चंद्र ने कनार की लकड़ी एवं पत्तों से इकोफ्रेंडली फर्नीचर एवं कप प्लेट, भावना ने पिरुल से कोयला, गीता ने आंवले का जूस एवम मुरब्बा, दीपिका ने होली के लिए ऑर्गेनिक रंग तथा स्थानीय निवासियों में चंद्रशेखर पड़ालिया ने लघु उद्योग, कमलेश पडलिया ने ऑर्गेनिक अचार व धूप, नवीन पडालिया ने दुग्ध डेयरी, दीपक पड़लिया ने पहाड़ी व्यंजन को बढ़ावा देने वाले उद्यमों में विशेष रुचि दिखाई ।
इस दौरान कार्यक्रम मे मनोज रावत, विनय शर्मा, संदीप, धीरज, वॉलंटर्स दीपक चंद्र ,दीपिका , दिव्या ,अंजली, पूजा पंत ,अंजली पंत , पूजा पाली, दिशा, गीता ,बबिता, हर्षिता, विनीता, प्रियंका , भावना समेत अन्य लोग मौजूद रहें।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल : 12.90 ग्राम अवैध स्मैक के साथ पुलिस ने किया व्यक्ति को गिरफ्तार