ख़बर शेयर करें -

नैनीताल :::- डीजीपी अशोक कुमार द्वारा शुक्रवार को पुलिस बहुउद्देशीय भवन हल्द्वानी में नवनिर्मित सीसीटीवी कंट्रोल रूम का उद्घाटन किया गया।


बता दे कि वर्तमान समय में हर छोटी- बड़ी घटनाओं के अनावरण, सुगम ट्रैफिक व्यवस्थाओं के संचालन में सीसीटीवी कैमरे (तीसरी आंख) अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते आये है इसी क्रम में पंकज भट्ट, एसएसपी की दूरदर्शिता के चलते संपूर्ण हल्द्वानी शहर के विभिन्न सड़क मार्ग, जनपद बॉर्डर बैरियर्स एवम व्यस्ततम चौराहों को कुल 89 सीसीटीवी कैमरो से लैस किया गया है जिसका कंट्रोल रूम पुलिस बहुउद्देशीय भवन हल्द्वानी में स्थापित किया गया। जहां पर नियुक्त पुलिसकर्मी 24×7 दिन पूरे हल्द्वानी शहर को निगरानीरत रख सकेंगे। इसी प्रोजेक्ट के तहत जनपद के अन्य शहरों रामनगर, लालकुआं एवम नैनीताल को भी शामिल कर उपरोक्त स्थानों में लगे सीसीटीवी कैमरों को बहुउद्देशीय भवन हल्द्वानी के सीसीटीवी कंट्रोल रूम से जोड़ा जाएगा।

अपने जनपद भ्रमण दौरे में डीजीपी उत्तराखंड द्वारा पुलिस के पुलिस बहुउद्देशीय भवन हल्द्वानी के स्मार्ट ऑफिसों (मोबाइल रिकवरी सेल, अभिसूचना इकाई, एसओजी कार्यालय, पुलिस संचार केंद्र इत्यादि का भौतिक निरीक्षण किया गया तत्पश्चात उनके द्वारा पुलिस सभागार में नीलेश आनंद भरणे आईजी कुमाऊं परिक्षेत्र नैनीताल, पंकज भट्ट, एसएसपी नैनीताल, डॉ. जगदीश चंद्र एसपी क्राइम/यातायात नैनीताल, हरबंस सिंह एसपी सिटी हल्द्वानी, जनपद के समस्त क्षेत्राधिकारी सहित कुमाऊं परिक्षेत्र के समस्त क्षेत्राधिकारी ऑपरेशन के साथ गोष्टी आयोजित कर उनके कार्यों (सोशल मीडिया मॉनिटरिंग, सीसीटीएनएस, कुमाऊं परिक्षेत्र स्तर पर संचालित विभिन्न अभियानों) इत्यादि की समीक्षा की गई।

इसके पश्चात अशोक कुमार डीजीपी उत्तराखंड द्वारा संपूर्ण प्रदेश स्तर पर प्रचलित भिक्षा नहीं शिक्षा दो अभियान कार्यक्रम में प्रतिभाग करते हुए पंकज भट्ट एसएसपी नैनीताल के कुशल नेतृत्व में जनपद नैनीताल पुलिस द्वारा विभिन्न निम्न तबकों के बच्चे जो विगत समय में हल्द्वानी के विभिन्न स्थानों में भिक्षावृत्ति के कामों में संलिप्त थे जिन्हें भिक्षावृत्ति से हटाकर ऐसे कुल 150 से अधिक बच्चों को विभिन्न स्वयं सहायता समूहो के माध्यम से हल्द्वानी के विभिन्न सरकारी एवं प्राइवेट स्कूलों में दाखिला दिलवाकर समाज की मुख्यधारा में जोड़ने का प्रयास किया गया है। डीजीपी उत्तराखंड महोदय द्वारा जनपद नैनीताल पुलिस के इस कार्य की सराहना करते हुए अपने वक्तव्य में कहा गया कि भिक्षावृत्ति समाज के लिए अभिशाप है अतः इसे समाज से जड़ से खत्म करने का प्रयास भिक्षा नहीं शिक्षा दो अभियान के तहत किया जा रहा है।
उन्होंने बताया कि संपूर्ण प्रदेश स्तर पर 350 बच्चो में से जनपद नैनीताल पुलिस द्वारा अब तक कुल 150 से अधिक बच्चों को विभिन्न सरकारी एवं प्राइवेट स्कूलों में दाखिला करवाया गया है जो जनपद पुलिस सहित संपूर्ण प्रदेश के लिए गर्व की बात है।
श्रीमान डीजीपी उत्तराखंड महोदय द्वारा इस अभियान में जनपद नैनीताल स्तर पर अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले आरक्षी हरजीत सिंह को मेडल प्रदान किए जाने की संस्तुति की गई है।

– नैनीताल पुलिस द्वारा नशा मुक्त भारत पखवाड़ा के तहत विगत दिनों नैनीताल पुलिस द्वारा अपने फेसबुक पेज के माध्यम से ऑनलाइन नशे के प्रति जागरूक करने के लिए पेंटिंग प्रतियोगिता कराए गई थी जिसमे प्रथम, द्वितीय,तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों के निर्धारित किए गए अंकों के आधार पर लाइक, शेयर, कमेंट अधिक लेने वाले प्रतिभागियों को अशोक कुमार डीजीपी उत्तराखंड द्वारा प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।
1.Navya Kawatra:
Class XII
School: Nirmala Convent Sr. Sec. School, Kathgodam
marks- 6957

2. Divyansh Kawatra:
Class X
BLM Academy Sr. Sec. School, Haldwani
marks-5317

3.Akshara Goswami: 5104
Class IX
Arden Progressive School, Haldwani
marks-5104

इस अवसर पर नीलेश आनंद भरणे, पुलिस महानिरीक्षक कुमाऊं परिक्षेत्र नैनीताल, पंकज भट्ट, एसएसपी नैनीताल, डॉ. जगदीश चंद्र एसपी क्राइम/यातायात नैनीताल, बसंत बल्लभ तिवारी पुलिस अधीक्षक दूरसंचार कुमाऊं परिक्षेत्र नैनीताल, हरबंस सिंह एसपी सिटी हल्द्वानी, शांतनु पराशर, पीआरओ डीजीपी उत्तराखंड, जनपद नैनीताल के समस्त क्षेत्राधिकारी भूपेंद्र सिंह धोनी क्षेत्राधिकारी हल्द्वानी, बलजीत सिंह भाकुनी क्षेत्राधिकारी रामनगर, नितिन लोहनी क्षेत्राधिकारी भवाली/क्षेत्राधिकारी, संगीता क्षेत्राधिकारी लालकुआं, रेवाधर मठपाल, पुलिस उपाधीक्षक दूरसंचार नैनीताल, कुमाऊं परिक्षेत्र के समस्त क्षेत्राधिकारी ऑपरेशन सहित भगवत सिंह राणा प्रतिसार निरीक्षक रिजर्व पुलिस लाइन नैनीताल, राजकुमार सिंह, निरीक्षक पुलिस दूरसंचार नैनीताल, हरेंद्र सिंह प्रभारी निरीक्षक कोतवाली हल्द्वानी, निरीक्षक हरपाल सिंह, नीरज भाकुनी थानाध्यक्ष बनभूलपुरा, रमेश बोहरा थानाध्यक्ष मुखानी, प्रमोद पाठक थानाध्यक्ष काठगोदाम, चंद्रशेखर भट्ट, आशुलिपिक एसएसपी नैनीताल सहित जनपद नैनीताल के समस्त अधिनस्थ पुलिस अधिकारी गण मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  हाई कोर्ट ने राज्य पदूषण बोर्ड सचिव, कमिश्नर कुमाऊँ-गढ़वाल को व्यक्तिगत रूप से पेश होने के निर्देश