ख़बर शेयर करें -
हेमंत मेहरा, कास्तकार बगड़

नैनीताल सहित आसपास के क्षेत्र में हुई भारी ओलावृष्टि के बाद पंगुट, सौड़, बगड़ में मटर की फसल को भारी नुकसान हुआ है बीती रोज घने बादलों के बीच अचानक तेज ओले पड़ने लगे। ओले इतने तेज थे कि कोई भी उसका बिना हेलमेट के सामना नहीं कर सकता था। ओले के बढ़ने के साथ ही खेत भी सफेद हो गए लगभग आधे घंटे चली ओलावृष्टि ने काश्तकारों की कमर तोड़कर रख दी। आज मौसम सामान्य हो गया। बेमौसम हुई बरसात और ओलावृष्टि से मटर, आड़ू के साथ ही मौसमी फसलें ओलावृष्टि से चौपट होने से काश्तकारों से सामने रोजी रोटी का संकट गहराने लगा है। काश्तकारों का कहना है ओलावर्ष्टि से उनकी 70 प्रतिशत फसल खराब हो गई। किसान सरकार से मदद की गुहार लगाने को मजबूर है।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल टाइम्स :: सोच संस्था ने अंतर्राष्ट्रीय मासिक धर्म स्वच्छता दिवस के अवसर पर अल्मोड़ा शहर में निकाली जागरूकता रैली, सैनिटरी पैड और जागरूकता पोस्टर हाथ में पकड़कर लोगों ने किया प्रतिभाग