ख़बर शेयर करें -

नैनीताल :: भारत के विभिन्न हिस्सों में चार बार भूकंप के झटके आ चुके हैं। हालांकि अभी तक कहीं से किसी तरह के नुकसान की सूचना नहीं आई है, लेकिन बार-बार आ रहे झटकों से लोगों में दहशत है। भूवैज्ञानिकों का भी मानना है कि बार-बार आ रहे झटके बड़े खतरे का संकेत हो सकते हैं

आपको बता दें कि बीती मंगलवार रात को भूकंप का पहला झटका करीब रात 8 बजकर 52 मिनट पर आया। जिसे दिल्ली एनसीआर से लेकर लखनऊ, कानपुर, मुरादाबाद, बरेली आदि शहरों के लोगों ने महसूस किया। इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.9 मापी गई है।

यह भी पढ़ें 👉  NEET 2022 :: कोविड नियमो के तहत नीट प्रेवश परीक्षा शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न, 240 छात्र छात्राओं ने किया प्रतिभाग

भूकंप का दूसरा झटका देर रात एक बजकर 58 मिनट पर आया। झटका इतना तेज था कि गहरी नींद में सोए लोगों की आंखें खुल गईं। दहशत में लोग घरों से बाहर की ओर भागे। इसकी तीव्रता 6.3 रही और केन्द्र नेपाल था।

यह भी पढ़ें 👉  बच्चों के अधिकार व सुरक्षा पर कार्यशाला शुरू... कार्यशाला में न्यायाधीश व विशेषज्ञ कर रहे हैं प्रतिभाग

नेपाल में 3 बजकर 15 मिनट पर एक और भूकंप रिकॉर्ड किया गया। भारत के सीमावर्ती जिलों में भी बहुत हल्के झटके महसूस किए गए। इसकी तीव्रता 3.5 रेक्टर स्केल बताई गई।

बुधवार सुबह भूकंप का एक और झटका आया। 6 बजकर 29 मिनट पर फिर से 4.3 रेक्टर का भूकंप आया। जिसका केंद्र धारचूला का सुवा क्षेत्र है। इसके झटके पूरे पिथौरागढ़ में महसूस किए गए।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments