Ad
ख़बर शेयर करें -

नैनीताल :: प्रदेश के चिकित्सा स्वास्थ्य, सहकारिता, उच्च शिक्षा मंत्री डा0 धन सिंह रावत ने सोमवार को भवाली सेनिटोरियम भवाली चिकित्सालय का स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान श्री रावत ने सेनिटोरियम मेें टी.बी. मरीजों के वार्डों में जाकर उनके स्वास्थ्य, औषधि,भोजन व्यवस्था आदि के बारे में विस्तार से जानकारी ली।

Ad

स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर रावत ने कहा कि उत्तराखण्ड को 2024 तक टी.बी. मुक्त राज्य बनाना है इसके लिए अभियान चलाकर लोगों को जागरूक करना होगा। उन्होेंने कहा कि मरीजों को बेहतर सुविधा हेतु जल्द ही रिक्त पद जल्द ही भरे जायेंगे, इस दिशा में सरकार कार्य भी कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार ने चिकित्सालयोें में 258 जांचे निशुल्क कर दी हैं तथा उत्तराखण्ड चिकित्सालयों में डाक्टरों के रिक्त पद भर दिये गये हैं।उत्तराखण्ड में टी.बी के मरीजों को सरकार द्वारा औषधि तथा भोजन निशुल्क प्रदान किया जा रहा है।
स्वास्थ्य मंत्री श्री रावत ने कहा कि प्रदेश में बूस्टर डोज कोविड 19 वैक्सीनेशन 30 सितम्बर 2022 तक निःशुल्क लगाई जायेगी, इसके पश्चात बूस्टर डोज हेतु शुल्क देना होगा। उन्होेंने सभी से अपील की है कि जनपद में जिन व्यक्तियों ने बूस्टर डोज नही लगाई है वे 30 सितम्बर से पूर्व लगा लें। उन्होने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को लोगों को जागरूक करने हेतु व्यापक प्रचार प्रसार करने के भी निर्देश दिये।
निरीक्षण के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 भागीरथी जोशी ने बताया कि भवाली सेनिटोरियम में वर्तमान में उत्तराखण्ड एवं उत्तर प्रदेश के कुल 34 मरीज भर्ती है। उन्होंने कहा कि चिकित्सालय में मरीजों के लिए 100 बैड की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि चिकित्सालय में 273 स्वीकृत पदों के सापेक्ष 116 पदों पर कर्मचारी कार्यरत हैं।
इस अवसर पर क्षेत्रीय विधायक सरिता आर्या ने सभी का अभिवादन किया तथा विधायक निधि से 5 लाख रूपये सेनिटोरियम चिकित्सालय को देने की घोषणा की।

Ad
Ad
यह भी पढ़ें 👉  राज्य निर्वाचन आयोग के बेदखली आदेश पर उत्तराखंड हाई कोर्ट ने लगाई रोक…
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments