ख़बर शेयर करें -

नैनीताल :::- कुमाऊं विश्वविद्यालय के नए कुलपति प्रो. दीवान सिंह रावत ने शुक्रवार 21 जुलाई को जीबी पंत कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो० मनमोहन सिंह चौहान की उपस्थिति में पदभार ग्रहण किया। उन्होंने कहा कि शैक्षणिक व्यवस्था की गुणवत्ता के साथ-साथ शोध तथा अनुसंधान में उत्कृष्ट करना उनकी पहली प्राथमिकता होगी।

कुलपति प्रो.रावत ने कहा कि विकास के पथ पर कोई देश तभी आगे बढ़ सकता है जब उसकी आने वाली पीढ़ी के लिए सूचना और ज्ञान आधारित वातावरण बने और उच्च शिक्षा के स्तर पर शोध तथा अनुसंधान के पर्याप्त संसाधन उपलब्ध हो। उन्होंने कहा कि ज्ञान, शिक्षा और कौशल विकास आज के विकास की मूल अवधारणा है। उनकी कोशिश होगी कि वह अपने कार्यकाल में बेहतर से बेहतर कर सकें। यही उनकी उपलब्धि भी होगी। प्रशासनिक तौर पर विश्वविद्यालय को सुदृढ़ बनाना और इसकी आधारभूत संरचना को मजबूती प्रदान करना भी उनकी प्राथमिकताओं में शामिल है।

कुलपति प्रो. रावत ने कहा कि लोकल इंडस्ट्रीज से बात कर करिकुलम डिज़ाइन किया जाएगा साथ ही इंटर्नशिप को प्रोत्साहित किया जाएगा। स्थानीय आवश्यकताओं एवं भौगोलिक परिस्थितियों को देखते हुए वोकेशनल पाठ्यक्रम तैयार किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय और महाविद्यालय स्तर पर कौशल विकास से संबंधित शैक्षणिक गतिविधियां संचालित हों, इस पर पूरा जोर दिया जाएगा।

कुलपति प्रो० रावत ने कहा कि ग्रामीण रोज़गार को बढ़ावा देने के लिये जम्मू-कश्मीर की तर्ज पर पर्पल रिवोल्यूशन अथार्त घरेलू सुगंधित फसल आधारित कृषि अर्थव्यवस्था पर शोध कार्य एवं उद्यमशीलता की भावना को प्रोत्साहित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रशासनिक एवं अकादमिक कार्य में पारदर्शिता व शुचिता तय करने हेतु विश्वविद्यालय के प्रत्येक परिसर, विभाग एवं सम्बद्ध संस्थानों का उनके द्वारा स्वयं निरिक्षण किया जायेगा।

कुलपति प्रो. रावत ने कहा कि प्राध्यापकों, कर्मचारियों एवं विद्यार्थियों की शिकायतों के निष्पादन हेतु प्राथमिकता के आधार पर ग्रीवेंस सेल का गठन किया जायेगा साथ ही ग्रीवेंस सेल के माध्यम से त्वरित कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी।

इससे पूर्व नए कुलपति प्रो. दीवान सिंह रावत का विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन में पहुँचने पर कुलसचिव दिनेश चंद्रा, वित्त-नियंत्रक अनीता आर्य, निदेशक डीएसबी परिसर प्रो. एलएम जोशी, संकायाध्यक्ष कला प्रो.इन्दु पाठक, संकायाध्यक्ष बायोमेडिकल साइंस प्रो. सतपाल सिंह बिष्ट, अधिष्ठाता छात्र-कल्याण प्रो. एलएस लोधियाल, मुख्य कुलानुशासक प्रो. नीता बोरा शर्मा, निदेशक आईक्यूएसी प्रो.राजीव उपाध्याय, निदेशक शोध एवं प्रसार प्रो. ललित तिवारी, उप कुलसचिव दुर्गेश डिमरी, उप परीक्षा नियंत्रक ड. अशोक कुमार, डॉ. महेंद्र राणा, क्रीड़ाधिकारी डॉ. नागेंद्र शर्मा, प्रभारी ईआरपी सेल केके पांडेय, भूपाल सिंह करायत, अविराम पंत, कैलाश जोशी द्वारा पुष्पगुच्छ प्रदान कर स्वागत किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  सरकारी नौकरी की तलाश कर रहे युवाओं के लिए अच्छी खबर, यहां निकली बंपर भर्तियां