ख़बर शेयर करें -

अल्मोड़ा :::- नेहरू युवा केन्द्र और सोच संस्था द्वारा भारत सरकार द्वारा आयोजित युवा संवाद (भारत के पंच प्रण) और मासिक धर्म विषय पर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन राजकीय बालिका इंटर कॉलेज अल्मोड़ा में किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि राज्य महिला आयोग की उपाध्यक्ष ज्योति शाह मिश्रा और विशिष्ट अतिथि महिला पॉलिटेक्निक की प्रधानाचार्य रेखा असवाल रही। नेहरू युवा केन्द्र की ओर से युवा अधिकारी दिवाकर भाटी मौजूद रहे।

कल्पना मिश्रा और जितेंद्र बिष्ट के द्वारा भारत के पंच प्रण विषय पर सभी छात्र छात्राओं को संबोधित किया गया।



मुख्य अतिथि राज्य महिला आयोग उपाध्यक्ष ज्योति शाह मिश्रा ने कहा की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पंच प्रणों को लेकर ही देश आगे बढ़ सकता है। उन्होंने पंच प्रण के बारे में सभी को विस्तार पूर्वक बताया। उन्होंने आगे कहा की सोच संस्था के कार्यों से प्रेरणा लेते हुए सभी को महिला उत्थान और महिला सशक्तिकरण को लेकर सोच संस्था का साथ देने की आवश्यकता है। साथी ही उन्होंने सैनिटरी पैड वेंडिग मशीन और डिस्पोजेबल मशीन जीजीआईसी अल्मोड़ा में लगवाने की घोषणा की।

विशिष्ट अतिथि महिला पॉलिटेक्निक की प्रधानाचार्य रेखा असवाल ने सोच संस्था द्वारा किए जा रहे कार्यों की सराहना की और अपने जीवन से जुड़ी घटनाओ का जिक्र करते हुए छात्र छात्राओं को जागरूक किया। साथ ही उन्होंने सोच संस्था की मुहिम में सभी से सामूहिक सहभागिता की भी अपील की।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल :: उत्तराखंड के बॉर्डर एरिया में लगेंगे 1 लाख 4G - 5G टॉवर



सोच संस्था की ओर से हिमांशी एवं प्रियंका द्वारा छात्राओं को माहवारी चक्र के दौरान होने वाली अनियमित बीमारियों पीसीओडी पीसीओएस से अवगत करवाया गया। साथ ही इस दौरान माहवारी के दौरान पैड बदलने की अवधि, उचित देखरेख एवं खानपान सम्बंधित जानकारी भी मुहैया करवाई गयी। इसके साथ ही हिमांशी ने महिलाओं को सर्वाइकल कैंसर को लेकर भी जानकारी दी। संस्था की ओर से दीपिका पुनेठा ने पीरियड्स के दौरान दर्द से आराम देने वाले योग अलग अलग आसनों और प्राकृतिक चिकित्सा के बारे में जानकारी दी।
जागरूकता कार्यक्रम में सोच संस्था द्वारा छात्राओं को निशुल्क रूप से सेनिटरी पैड्स भी वितरित किये गए।

कार्यक्रम में सोच संस्था के कोषाध्यक्ष राहुल जोशी ने कहा कि माहवारी को लेकर शर्म टूटने एवं खुली विचार विमर्श को लेकर उनकी संस्था संकल्पबद्ध है। उन्होंने इस दौरान आगे की परियोजना के बारे में बताते हुए कहा कि आगामी महीनों में उनके कार्यक्रम विभिन्न जनपदों (पिथौरागढ़, नैनीताल और बागेश्वर) में प्रस्तावित हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड हाईकोर्ट ने कई जिलों के जजों के किए तबादले... कुछ जजों की हुई पदोन्नति...


संस्था के अध्यक्ष आशीष पंत ने महावारी से जुड़ी सामाजिक भ्रांतियों को लेकर महिलाओं को संबोधित किया और उन्होंने अपने जीवन से जुड़ी मासिक धर्म की घटनाओं को भी महिलाओं के साथ साझा किया।

कार्यक्रम का संचालन मयंक पंत द्वारा किया गया। कार्यक्रम में सोच संस्था की ओर से आशीष पंत, राहुल जोशी, मयंक पंत, जितेंद्र बिष्ट, हिमांशी भंडारी, दीपिका पुनेठा, प्रियंका सलाल, कल्पना मिश्रा, दीपाली भट्ट, हर्ष काफर, जीजीआईसी की सभी शिक्षिकाए और सभी छात्र छात्राएं मौजूद रही।