ख़बर शेयर करें -

नैनीताल ::- पर्यटन सीजन दृष्टिगत रखते हुए जिलाधिकारी धीरज सिंह गर्ब्याल ने राज्य अतिथि गृह नैनीताल में संबंधित अधिकारियों, पुलिस तथा व्यापार मंडल के पदाधिकारियों के साथ आवश्यक बैठक ली। बैठक में अधिकारी एवं व्यापारियों के पदाधिकारियों द्वारा पर्यटन सीजन में यात्रा को सुव्यवस्थित ढंग से संचालित करने के लिए अपने अपने सुझाव में विचार रखें ताकि पर्यटन सीजन सुगम चल सके। गर्ब्याल ने पुलिस विभाग को निर्धारित यातायात रूपरेखा तय करने के निर्देश दिए। बैठक में जिला पर्यटन अधिकारी ने बताया कि वर्तमान में नैनीताल शहर में लगभग 270 होटल एवं 80 होमस्टे पंजीकृत हैं जिलाधिकारी ने पर्यटन अधिकारी को निर्देश दिए है कि शहर के सभी संचालित होटलो एवं होमस्टे का तत्काल पंजीकरण करना सुनिश्चित करें तथा उनकी सूची संबंधित निर्धारित तीन स्थानों पर यात्रियों की सुविधा हेतु साइन बोर्ड लगवाना सुनिश्चित करें। इसके साथ ही सूची को भी व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से शेयर करना भी सुनिश्चित करें तथा पंजीकृत होटलों में पार्किंग की व्यवस्था करना भी अनिवार्य होगी। उन्होंने जिला पंचायत अधिकारी को निर्देश दिए है कि रूसी बाईपास एवं उसके दोनों ओर सीसी कैमरे, शौचालय, साफ सफाई, विद्युत, पानी की शीघ्र ही व्यवस्था करना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने नगर आयुक्त , सीओ नैनीताल एवं उप जिलाधिकारी को रूसी बाईपास व्यवस्थाओं का स्थलीय निरीक्षण करने के निर्देश दिए। बैठक में जिलाधिकारी ने सोलर लाइट लगवाने हेतु मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिए। इसके अलावा जिलाधिकारी ने लोनिवि को मुख्य मोड़ पर मिरर लगाने के साथ ही नैनीताल से हनुमानगढ़ी पर अवैध रूप से रेता बजरी को हटाने के निर्देश दिए। इसके अलावा जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी को नैनीताल से हल्द्वानी सड़क मार्ग पर अव्यवस्थित रूप से लगाए गए हार्डिंग्स को तत्काल हटाने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने तल्लीताल चुंगी पर आए दिन लगने वाले जाम संज्ञान लेते हुए संबंधित को अतिरिक्त कर्मचारी बढ़ाने, पुलिस विभाग को बीडी पांडे स्थान पर सड़क मार्ग को वाहनों का पूर्ण प्रतिबंध, नगर पालिका को शहर में स्ट्रीट लाइट ,साफ सफाई व्यवस्थाएं, रूसी बाईपास से नैनीताल तक शटल सेवा प्रति यात्री रेट निर्धारित, कुमाऊँ विकास मंडल निगम द्वारा संचालित पेट्रोल पंप में कर्मचारी बढ़ाने एवं तेल का टैंकर दिन में प्रतिबंधित तथा 24 घंटे संचालित करने के साथ ही निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें 👉  हाईकोर्ट ने अपनी मां, बड़े भाई व गर्भवती भाभी की तलवार से काटकर निर्मम हत्या करने के आरोपी को निचली अदालत द्वारा दी गई फांसी की सजा को निरस्त करते हुए निचली अदालत को दुबारा मामले को सुनने के लिए लौटाया