ख़बर शेयर करें -

नैनीताल ::::- कोरोना वायरस के बढ़ते हुए संक्रमण के दृष्टिगत जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने कोविड 19 के रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए पांच सूत्री रणनीति, जांच, निगरानी, उपचार, टीकाकरण तथा सामाजिक दूरी (एप्रोप्रियेट) का अनुपालन करने के लिए सम्बन्धित स्वास्थ्य विभाग को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
गर्ब्याल ने कोविड से बचाव के लिए आमजनमानस को सामाजिक दूरी का अनुपालन, मास्क पहनना एवं हाथों को सेनिटाइज करने के प्रति लोगों को जागरूक रहने को कहा है। स्वास्थ्य विभाग व जनप्रतिनिधियों को अपने क्षेत्रों में कोविड 19 टीकाकरण के लिए आम जनता को नियमित रूप से प्रेरित करने को कहा।
स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सालयों में कोविड 19 रोगियों के उपचार के लिए पर्याप्त मात्रा में आक्सीजन सिलेण्डर, ऑक्सीजन कसंनट्रेटर, आक्सीजन बेड, वेटिंलेटर, आईसीयू बेड एवं आक्सीजन के साथ ही चिकित्सालयों में ऑक्सीजन जनरेटर प्लांट की क्रियाशीलता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।
उन्होंने कहा है कि दैनिक रूप से राजकीय एवं निजी चिकित्सालयों में कोविड 19 संक्रमित भर्ती रोगियों की सूचना प्राप्त कर एवं रोगिंयो के स्वास्थ्य दशा की निरन्तर निगरानी की जाए एवं रोगियों को ससमय पूर्ण उपचार दिया जाए।
उन्होंने कहा हल्के लक्षण वाले कोविड 19 संक्रमित रोगियों को होम आईसोलेशन में ही उपचार प्रदान करने के साथ ही ऐसे रोगियों को गम्भीर लक्षण होने पर शीघ्र ही सम्बन्धित चिकित्सालय में उपचार के लिए संदर्भित किया जाए। उन्होंने कहा कि कोविड 19 जांच के लिए आईसीएमआर भारत सरकार के दिशा निर्देशों का पालन करने के साथ ही जनपद में कोविड 19 सैम्पलिंग आरटीपीसीआर की जांच को बढ़ाई जाए तथा चिकित्सालयों में आने वाले रोगियों की कोविड 19 संक्रमित सभी रोगियों का विवरण अनिवार्य रूप से आईडीएसपी.पोर्टल प्रविष्ट किया जाए। समुदाय स्तर पर यदि किसी जगह कोविड 19 अथवा फीवर केस कल्स्टरिंग मिलती है तो वहां शीघ्र जांच की सुविधा हो साथ ही निरोधात्मक की कार्यवाही भी की जाए।

यह भी पढ़ें 👉  ऋषभ पंत सड़क हादसे का शिकार, डिवाइडर से टकराई कार, सिर और पैर में गंभीर चोट