ख़बर शेयर करें -

नैनीताल :::- वनस्पति विज्ञान विभाग डीएसबी परिसर तथा शोध विकास अनुभाग कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल द्वारा विशेष व्याख्यान माला के तहत बनारस हिंदू विश्वविद्यालय वाराणसी के प्रो.सुरेश के दुबे ने प्रेवलेंस ऑफ लिस्टेरिया मोनो साइटोजीन इन एनवायरनमेंटल एंड ह्यूमन क्लिनिकल सैंपल्स पर प्रकाश डाला। प्रो. दुबे ने कहा कि लिस्टेरिया साइटो जिन एक मृदा बैक्टीरिया है तथा यह 4डिग्री तापक्रम पर रहता है । यह रोड शेप , ग्राम पॉजिटिव तथा विदेशों में 31प्रतिसत तक प्रभावी है। इससे लिस्टेरियोसिस रोग फैलता है।यह प्रदूषित भोजन, दूध जल ,फल ,सब्जियों में मिलता है । जलवायु परिवर्तन से इसकी समस्या बड़ी है। उन्होंने कहा कि भारत में भी इसके सैंपल्स मिल रहे है। मिल्क प्रोडक्ट ,मीट ,पोल्ट्री ,सी फूड में यह सर्वाधिक है ।यह गर्भवती महिला ,उम्र दराज महिलाओं को ज्यादा प्रभावित करता है । इस बैक्टीरिया की बीमारी इम्यून सिस्टम को कमजोर करती है ।इस पर अधिक शोध की जरूरत है। कार्यक्रम में विभागाध्यक्ष प्रो एस एस बर्गली नए सभी का स्वागत किया तथा संचालन शोध निदेशक प्रो ललित तिवारी ने किया। प्रो दुबे को शॉल उड़ाकर , पुस्प गुच्छ,तथा उन्नत भारत अभियान का कप भेट कर सम्मानित किया गया ।प्री दुबे ने विभाग के गार्डन में एरिथिना का पौधा भी लगाया।।व्याख्यान में प्रो किरण बरगली,प्रो सुषमा टम्टा , प्रो नीलू लोधियाल ,डॉक्टर प्रभा पंत ,डॉक्टर हर्ष चौहान ,डॉक्टर नवीन पांडे ,डॉक्टर हिमानी कार्की ,डॉक्टर हेम जोशी , नेहा , सीकधर ,जलाल ,स्वाति ,अंजली सहित गीतांजलि ,प्रभा ,हिमानी ,इंदर ,दिशा ,कुंजिका , जगदीश पपनै ,संतोष ,गोपाल बिष्ट , वीरेंद्र ,लीला एमएससी द्वितीय तथा चतुर्थ सेमेस्टर वनस्पति विज्ञान के छात्र छात्राएं , कृषि विज्ञान के बी एससी के छात्र छात्राएं उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल :: निर्मला जलाल ने नेट परीक्षा पास कर लहराया परचम