ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी:::- मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने वीसी के माध्यम से पेयजल विभाग की समीक्षा बैठक ली। मण्डल से वीसी में मण्डलायुक्त दीपक रावत व मण्डल के समस्त जिलाधिकारी उपस्थित थे। बैठक की अध्यक्षता करते हुए सीएम ने समस्त जिलाधिकारी को मिशन मोड़ में कार्य करने, कुछ पेयजल योजनाओं का स्वयं निरीक्षण करने के साथ ही जनपद के समस्त अधिकारियों से भौतिक सत्यापन कराने के निर्देश दिए। सीएम ने कहा कि अधिकारियों के भौतिक सत्यापन से वास्तविक फीडबैक प्राप्त होगा व कमी को दूर किया जा सकेगा।

वीसी में मण्डल से जुड़े मण्डलायुक्त दीपक रावत ने बताया कि जल जीवन मिशन के तहत कुमाऊँ मण्डल में लागत 4456 करोड़ की 6673 डीपीआर का कार्य किया जाएगा। आयुक्त ने वीसी में बताया कि जलजीवन मिशन योजनाओं के निर्धारित लक्ष्य का कार्य मार्च 2024 तक पूर्ण कर लिया जायेगा। वर्तमान में 6654 टेंडर विभाग द्वारा आमंत्रित कर लिए गए है शेष पर निविदा आमंत्रण का कार्य गतिमान हैं। आयुक्त ने बताया कि इसके साथ ही मण्डल के समस्त विद्यालय, आंगनवाड़ी केंद्रों को भी पेयजल से आच्छादित किया जाना है जो कि लगभग पूर्ण कर लिया गया है। इसके साथ ही जल स्त्रोत संवर्धन, संरक्षण के कार्य भी किए जा रहे है। जल जीवन मिशन के अंतर्गत उत्तराखंड जल संस्थान द्वारा कुल 3536 स्कूल, 2992 आंगनवाड़ी केंद्रों में जल संयोजन प्रदान कर जलापूर्ति उपलब्ध कराई जा चुकी है।

यह भी पढ़ें 👉  स्वर्गीय प्रशांत दीक्षित की द्वितीय पुण्यतिथि पर संत सोमवारी महाराज राजकीय इंटर कॉलेज पदमपुरी में 300 से अधिक ग्रामीणों समेत स्कूली बच्चों ने निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का उठाया लाभ